Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi

मोर और बगुले की शिक्षाप्रद कहानी (Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi) दोस्तों आज में आपको एक बहुत ही अच्छी कहानी बताने वाला हूँ, बहुत से लोग अक्सर दुसरो की बुराई करते रहते है या दुसरो की कमियों को निकलते रहते है जो की बहुत बुरी बात है कुकी अगर आप किसी की बुराई को दखते है तो वो बुराई आप में भी आ जाती है तो हमें हमेशा दुसरो की अच्छाई को देखना चाहिए और उनसे सीख लेकर अपने जीवन में भी उन्हें उतरना चाहिए

कुकी जब आ किसी में अच्छाई को देखेंगे तो आप में भी positive energy आएगी बाते और भी है पर, चलिए अपना रूख कहानी की और करते है और इस कहानी की सिख को अपने जीवन में उतारते है

Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi

Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi , Moral Story in Hindi, Hindi Story, moral stories in hindi peacock and crane motivational moral story in hindi Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi 01

Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi

एक बार की बात है एक जंगल में एक मोर रहता था। जो की जंगल की दूसरी चिडियों को हमेशा अपनी सुन्दरता और अपने रंगबिरंगे पंखो को देखा कर ये कहता की क्या कोई उसके साथ नाचेगा वह ऐसा इसलिए कहता था कुकी उसे अपनी पंखो की सुन्दरता पे काफी घमंड था और वो दुसरो को निचा दिखने की कोशिश करता रहता।

धीरे धीरे मोर अपनी सुन्दरता के घमंड के दलदल में फसता चला गया और थोड़े समाये के बाद वो सब दूसरी चिडियों को सामने से गन्दा और बदसूरत कहने लगा और जो भी मिलता उससे वह केवल अपनी सुन्दरता का बखान करने लगता कहता की मेरे पंख कितने सुन्दर है। इनसे सभी रंग है और देखो कितने चमकदार है और तुम्हारे पंख तो एकदम बेकार है कोई रंग नहीं न ही कोई चमक है। देखो मुझे में दुनिया की सबसे सुन्दर और लम्बे पंख मेरे है में इस दुनिया की सबसे सुन्दर चिड़िया हू।

मोर का रोज का यही काम था की अपनी तारीफ करना, दुसरो को चिढाने के लिए अपने लम्बे पखों को दिखा दिखा का नाचना , दुसरो को निचा दिखाना और दुसरो की गलती को निकलना सभी चिड़िया उससे परेशांन थी पर उन्ही उमीद थी की कभी न कभी उसका ये घमंड चूर जरुर होगा।

एक दिन मोर नाचता गाता , घमंड में चूर जंगल के पास बहने वाली नदी किनारे पंहुचा। वहाँ उसने एक बगुले को देखा , अब कुकी मोर हर किसी को निचा दिखाने की कोशिश करता था तो वह बगुले को निचा दिखाने के लिए उसके पास गया।

बगुले के पास जाकर मोर बड़े ही घमंड से बोला : तुम कितने बदसूरत दीखते हो , तुम्हारे पंख कितने गंदे है इनमे तो कोई रंग ही नहीं है। तुम एक साधारण पक्षी हो मुझे देखो मेरे पंख कितने लम्बे और सुन्दर, चमकदार है, एकदम रजा की तरह , में सबसे सुन्दर हू।

बगुले ने बड़ी विनम्रता से कहा : मित्र मोर तुम्हे किसी को भी इस तरह नहीं बोलना चाहिए और न ही किसी का मजाक उड़ना चाहिए , माना की तुम्हारे पंख काफी लम्बे , सुन्दर , चमकदार और रंगबिरंगे है पर इतनी सुन्दरता होने के बावजूद तुम इन पखों की मदत से आसमान में ऊँचा नहीं उड़ सकते पर मेरे इन बेरंग पंखो में इतनी ताकत और सामर्थ है की में आसमान से ऊँचा उड़ सकता हू।

यह सुन कर मोर का सर झुक गया और उसे इसका बहुत अफ़सोस हुवा की वो दुसरे पक्षिओ का मजाक उडाता है और उसे अपनी गलती का अहसास हो गया और अब आगे से उसने किसी का मजाक उड़ाने और निचा ना दिखाने की कसम  खाई।

दोस्तों इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है की बिना काम की सुन्दरता का कोई मतलब नहीं है अगर आप सुन्दर है पर उस सुन्दरता का कोई उपयोग नहीं है तो ऐसी सुन्दरता बेकार है कहने का मतलब बेकार सौंदर्य प्रशंसनीय नहीं है , ये भी कह सकते है की सुन्दर बनने से अच्छा है की आप उपयोगी बने ( It is better to be useful than to be beautiful ) और इस कहानी से हमें ये भी सिखने को मिलता है की कभी भी किसी की बुराई नहीं करनी चाहिए और न ही दुसरो में बुराई खोजनी चाहिए , न ही किसी का मजाक उडाना चाहिए।

Note ◆ : 

अगर आपके पास कोई Hindi Story , Motivational Story , Moral Story , Inspirational Story या किसी भी तरह की कोई जानकारी है जो आप लोगों के साथ शेयर करना चाहते है तो आप उस जानकारी को अपने नाम , फोटो के साथ हमें ईमेल करे , हमारी Email ID है : [email protected]  , आपकी जानकारी अच्छी हुई तो उसे आपके नाम और आपके फोटो के साथ यहाँ पर Post किया जायेगा , अपने ज्ञान को दुसरो के साथ बाटिये , ज्ञान बाटने से बढ़ता है ।

Motivational Video in Hindi : Peacock and Crane Motivational Story in Hindi

इस तरह के और हिंदी विडियो देखने के लिए आप यहाँ क्लिक करे : हिंदी विडियो 

अगर आपको ये विडियो पसंद आया हो तो आप इस तरह के हिंदी विडियो देखने के लिए हमारे चैनल को YouTube पर सब्सक्राइब (subscribe) करे , YouTube पर subscribe करेने के लिए यहाँ क्लिक करे : Subscribe 

आपको यह जानकारी मोर और बगुले की शिक्षाप्रद कहानी  ( Peacock And Crane Motivational Moral Story in Hindi )  कैसी लगी , हमे कमेंट करके बताना न भूले। अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले । आप हमसे Facebook,Twitterऔर YouTube या Google + पर भी जुड़ सकते है। ऐसे ही हमसे जुड़े रहे और Hindimai.com को सपोर्ट करे और दोस्तों मे शेयर करे।

1 comment

Leave a reply

HINDI NEWSLETTER

अभी जुड़े ! ईमेल डाले ! Sign Up!

Hindimai वेबसाइट से जुड़े और सभी तरह की रोचक और ज्ञान वर्धक पोस्ट की जानकारी फ्री में पाये।